vimarsha-jamsedpurविवेकानन्द केंद्र कन्याकुमारी की शाखा जमशेदपुर के माध्यम से विमर्श कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसका  विषय था “पारिवारिक और सामाजिक जीवन में चुनौतियाँ”। विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुश्री निवेदिता रघुनाथ भिड़े ने टेल्को क्लब में उपरोक्त विशत पर मार्गदर्शन दिया। वे दो दिन के प्रवास पर जमशेदपुर ए हुई थी।

उन्होंने आगे बताया कि सत्य समाज के अनुसार नहीं बदलता सत्य के अनुसार ही समाज को बदलना पड़ता है और सत्य क्या है तो सत्य है की यह सम्पूर्ण चराचर एक दुसरे से जुड़ा हुआ है। एकात्मता ही यह सत्य है। आज वैज्ञानिक पर्यावरण के विषय को लेकर चिंतित हो रहे है क्योंकि उसका सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। बच्चों की परवरिश का तंत्र है उसको (CMSS) प्रक्रिया कहते है: ‘केयर & मोल्ड’ एवम् ‘शेयर & सजेस्ट’ इस प्रक्रिया का नाम है। परिवार के अन्दर बच्चों को १. जीवन का उद्देश्य सिखाना; २. उनका सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करना, एवम् ३. जीवन मूल्य देना हम सभी का दायित्त्व बन जाता है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि टाटा मोटर्स के महाप्रबन्धक (एन.पी.आई.) श्री मानस मिश्रा थे। कार्यक्रम का उदघाटन अतिथियों द्वारा दीप प्रजवलन कर किया गया। कार्यक्रम का सञ्चालन विवेकानन्द केंद्र के  कार्यकर्ता एवं XLRI के प्राध्यापक डॉ. मनीष सिंघल ने किया। कार्यक्रम का प्रारंभ तीन ओंकार एवं प्रार्थना द्वारा केंद्र के कार्यकर्ता डॉ. रामनाथ द्वारा किया गया। TELCO में यह कार्यक्रम श्री ईश्वर राव, एवं श्री अवधेश-जी के सौजन्य से संपन्न हुआ। कार्याक्रम में TATA Motors के वरिष्ठ अधिकारी,कर्मचारी और नगर के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

State

Source URL: https://www.vrmvk.org/report/2015-october/परिवार-ही-संस्कार-की-प्रथम-पाठशाला